बहती गंगा में खूब हाथ धो रहे हैं. लूट सको तो लूट. मध्य प्रदेश , मन पसंद प्रदेश हैं.यहाँ लाओ और पाओका शासन चल रहा हैं. अधिकारी और कर्मचारिओं और नेताओं ने प्रदेश को लूटने का पूरा पूरा उपक्रम बनालिया हैं. अब किसी को किसीका दर नहीं नहीं रहा  मंत्री, संत्री, नेता अभिनेता सब लूटने के लिए बैठे हैं. नौकरी का वेतन, काम का पैसा चाहिए.निर्भीक होकर सब को साथ में लेकर चलते हैं. खूब लूटो और बाँटो. खाओ और खिलाओ.कोई डर नहीं हैं ऐसेसैंकड़ो अधिकारी हैं इस प्रदेश में. लोकायुक्त को खूब काम करना पद रहा हैं. अछ्छा  हैं

Advertisements